Uncategorized

*धर्मेंद्र बोले- “पहले पता होता तो सनी को यहां से चुनाव लड़ने से मना कर देता”* * बलराम जाखड़ ने मुझे राजनीति की एबीसीडी सिखाई थी। दिग्गज अभिनेता धर्मेंद्र ने अपने बेटे सनी देओल के चुनाव लड़ने को लेकर बड़ा बयान दिया है। धर्मेंद्र ने कहा है कि अगर उन्हें पता होता कि सनी देओल गुरदासपुर से कांग्रेस प्रत्याशी सुनील जाखड़ के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं वो उन्हें चुनाव लड़ने से मना कर देते। लेकिन अब हम मैदान में हैं और अब कुछ नहीं बदला जा सकता। धर्मेंद्र ने कहा कि मुझे गुरदारपुर पहुंच कर पता चला कि सनी बलराम जाखड़ के बेटे सुनील के खिलाफ चुनाव लड़ रहा है। बलराम जाखड़ के साथ मेरे संबंध बहुत अच्छे थे। सुनील मेरे बेटे जैसा है। उन्होंने 2004 के लोकसभा चुनाव में राजस्थान के चुरू से बलराम जाखड़ के खिलाफ चुनाव लड़ने से मना कर दिया था। धर्मेन्द्र ने कहा कि मुझे विधायक और सांसद का भी अंतर नहीं पता था, बलराम जाखड़ ने राजनीति का पहला पाठ पढ़ाया। मैंन राजस्थान में उनके लिए प्रचार किया, लेकिन अब मजबूरी है हम गुरदासपुर में हैं और हमें जो लड़ाई दी गई है उसे लड़ेंगे।

**धर्मेंद्र बोले- “पहले पता होता तो सनी को यहां से चुनाव लड़ने से मना कर देता”*
* बलराम जाखड़ ने मुझे राजनीति की एबीसीडी सिखाई थी।
दिग्गज अभिनेता धर्मेंद्र ने अपने बेटे सनी देओल के चुनाव लड़ने को लेकर बड़ा बयान दिया है। धर्मेंद्र ने कहा है कि अगर उन्हें पता होता कि सनी देओल गुरदासपुर से कांग्रेस प्रत्याशी सुनील जाखड़ के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं वो उन्हें चुनाव लड़ने से मना कर देते। लेकिन अब हम मैदान में हैं और अब कुछ नहीं बदला जा सकता।
धर्मेंद्र ने कहा कि मुझे गुरदारपुर पहुंच कर पता चला कि सनी बलराम जाखड़ के बेटे सुनील के खिलाफ चुनाव लड़ रहा है। बलराम जाखड़ के साथ मेरे संबंध बहुत अच्छे थे। सुनील मेरे बेटे जैसा है। उन्होंने 2004 के लोकसभा चुनाव में राजस्थान के चुरू से बलराम जाखड़ के खिलाफ चुनाव लड़ने से मना कर दिया था।
धर्मेन्द्र ने कहा कि मुझे विधायक और सांसद का भी अंतर नहीं पता था, बलराम जाखड़ ने राजनीति का पहला पाठ पढ़ाया। मैंन राजस्थान में उनके लिए प्रचार किया, लेकिन अब मजबूरी है हम गुरदासपुर में हैं और हमें जो लड़ाई दी गई है उसे लड़ेंगे।
* बलराम जाखड़ ने मुझे राजनीति की एबीसीडी सिखाई थी।
दिग्गज अभिनेता धर्मेंद्र ने अपने बेटे सनी देओल के चुनाव लड़ने को लेकर बड़ा बयान दिया है। धर्मेंद्र ने कहा है कि अगर उन्हें पता होता कि सनी देओल गुरदासपुर से कांग्रेस प्रत्याशी सुनील जाखड़ के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं वो उन्हें चुनाव लड़ने से मना कर देते। लेकिन अब हम मैदान में हैं और अब कुछ नहीं बदला जा सकता।
धर्मेंद्र ने कहा कि मुझे गुरदारपुर पहुंच कर पता चला कि सनी बलराम जाखड़ के बेटे सुनील के खिलाफ चुनाव लड़ रहा है। बलराम जाखड़ के साथ मेरे संबंध बहुत अच्छे थे। सुनील मेरे बेटे जैसा है। उन्होंने 2004 के लोकसभा चुनाव में राजस्थान के चुरू से बलराम जाखड़ के खिलाफ चुनाव लड़ने से मना कर दिया था।
धर्मेन्द्र ने कहा कि मुझे विधायक और सांसद का भी अंतर नहीं पता था, बलराम जाखड़ ने राजनीति का पहला पाठ पढ़ाया। मैंन राजस्थान में उनके लिए प्रचार किया, लेकिन अब मजबूरी है हम गुरदासपुर में हैं और हमें जो लड़ाई दी गई है उसे लड़ेंगे।