Uncategorized

आम आदमी पर दाल-अनाज की कीमतों की कमर-तोड़ मार: 7 महीने में महँगाई अपने उच्चतम स्तर पर*

*आम आदमी पर दाल-अनाज की कीमतों की कमर-तोड़ मार: 7 महीने में महँगाई अपने उच्चतम स्तर पर*

दाल और अनाज की कीमतें बढ़ने से मई महीने में कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स यानी सीपीआई 2.92 फीसदी से बढ़कर 3.05 फीसदी हो गई है. यह आंकड़ा 7 महीने में सबसे ज्यादा है.
सीएसओ की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, मई में रिटेल महंगाई दर अप्रैल 2.92 फीसदी से बढ़कर 3.05 फीसदी पर पहुंच गई है. वहीं, मई में कोर सीपीआई अप्रैल के 4.6 फीसदी से घटकर 4.2 फीसदी पर आ गई है।

*आईआईपी के अनुमान के लिए 15 एजेंसियों से आंकड़े जुटाए जाते हैं. इनमें डिपार्टमेंट ऑफ इंडस्ट्रियल पॉलिसी एंड प्रमोशन, इंडियन ब्यूरो ऑफ माइंस, सेंट्रल स्टेटिस्टिकल आर्गेनाइजेशन और सेंट्रल इलेक्ट्रिसिटी अथॉरिटी शामिल हैं.*

महीने दर महीने आधार पर मई में खाद्य पदार्थों की महंगाई 1.1 फीसदी से बढ़कर 1.83 फीसदी पर रही है जबकि सब्जियों की महंगाई 2.87 फीसदी से बढ़कर 5.46 फीसदी पर पहुंच गई है.
महीने दर महीने आधार पर मई में ईंधन और बिजली की मंहगाई दर 2.56 फीसदी से घटकर 2.48 फीसदी पर आ गई है. वहीं हाउसिंग की महंगाई दर अप्रैल के 4.76 फीसदी से बढ़कर 4.82 फीसदी पर रही है.
महीने दर महीने आधार पर मई में अनाजों की महंगाई दर 1.17 फीसदी से बढ़कर 1.24 फीसदी पर रही है. वहीं कपड़ों और जूतों की महंगाई अप्रैल के 2.01 फीसदी से घटकर 1.8 फीसदी रही है.
मई में दालों की महंगाई दर में भी बढ़ोतरी देखने को मिली है, महीने दर महीने आधार पर मई में दालों की महंगाई दर -0.89 फीसदी से बढ़कर 2.13 फीसदी पर पहुंच गई है.