Uncategorized

देशभक्त’ गोडसे विवाद: अकेले साध्वी प्रज्ञा ने नहीं, BJP के इन 4 नेताओं ने गांधी के हत्यारे की शान में कसीदे गढ़े*

*देशभक्त’ गोडसे विवाद: अकेले साध्वी प्रज्ञा ने नहीं, BJP के इन 4 नेताओं ने गांधी के हत्यारे की शान में कसीदे गढ़े*

*बीजेपी नेता साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताने वाले बयान पर पार्टी की काफी आलोचना हो रही है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार साध्वी प्रज्ञा के बयान को दुर्भाग्यपूर्ण बताया.*

*एबीपी न्यूज*

नई दिल्ली: बीजेपी नेता साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताने वाले बयान पर पार्टी की काफी आलोचना हो रही है. साध्वी प्रज्ञा के इस बयान के बाद बीजेपी के कुछ और नेताओं ने नाथूराम गोडसे और महात्मा गांधी के बारे टिप्पणी की. इससे बीजेपी के लिए काफी असहज स्थिति उत्पन्न हो गई है. यहां जानते हैं गांधी के हत्यारे गोडसे के बारे में बीजेपी के चार नेताओं- केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े, साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर, सांसद नलिन कुमार कटील, मध्य प्रदेश बीजेपी आईटी सेल चीफ अनिल सौमित्र ने क्या कहा है.

साध्वी प्रज्ञा ने कहा, “महात्मा गांधी के हत्यारे गोडसे सबसे बड़े देशभक्त थे और जो लोग उन्हें आतंकवादी कहते हैं, वे अपने गिरेबां में झांककर देखें.”

केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े ने कहा, ‘’मैं खुश हूं कि करीब सात दशक के बाद आज की पीढ़ी नए बदलाव के साथ इस मुद्दे पर चर्चा कर रही है. इस चर्चा को सुनकर आज नाथूराम गोडसे अच्छा महसूस कर रहे होंगे’. उन्होंने आगे लिखा, ‘’अब समय है कि आप मुखर हों और माफी मांगने से आगे बढ़ें, अब नहीं तो कब?’’

सांसद नलिन कुमार कटील ने गुरुवार को कहा, ”गोडसे ने एक को मारा, कसाब ने 72 को मारा, राजीव गांधी ने 17 हजार को मारा. अब आप खुद तय कर लो कि कौन ज्यादा क्रूर है.”

वहीं, बीजेपी की मध्य प्रदेश इकाई ने पार्टी के मीडिया सेल चीफ अनिल सौमित्र की प्राथमिक सदस्यता रद्द कर दी है. अनिल सौमित्र ने अपनी फेसबुक वॉल पर लिखा है, “गांधी राष्ट्रपिता थे, लेकिन पाकिस्तान राष्ट्र के. भारत राष्ट्र में तो उनके जैसे करोड़ों पुत्र हुए. कुछ लायक तो कुछ नालायक.”

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को साध्वी प्रज्ञा के बयान को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है. उन्होंने कहा कि भले ही साध्वी प्रज्ञा ने अपने बयान को लेकर मांफी मांग ली हो, लेकिन अपने दिल से वह कभी उन्हें माफ नहीं कर पाएंगे.
वहीं, बीजेपी ने साध्वी प्रज्ञा के साथ केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगडे और कर्नाटक से सांसद नलिन कुमार कटील पर अनुशासनात्मक कार्रवाई शुरू कर दी है. इस बारे में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में जानकारी दी. उन्होंने कहा कि कमिटी अगले 10 दिनों के अंदर यह रिपोर्ट सौंपेगी कि इन नेताओं पर क्या कार्रवाई की जाए.

7 Views