Loading...
National

UIDAI विवाद : Google ने मानी गलती, उसने ही डाला है लोगों के एंड्रॉयड फोन में हेल्पलाइन नंबर

UIDAI विवाद : Google ने मानी गलती, उसने ही डाला है लोगों के एंड्रॉयड फोन में हेल्पलाइन नंबर
देश NDTVKhabar News Desk
गूगल ने यह कबूल कर लिया है कि लोगों के मोबाइल फोन में दिखने वाले नंबर में उसकी गलती है. उसकी गलती की वजह से लोगों के फोन में यह नंबर दिख रहा है.
Updated : August 04, 2018 09:57 IST

भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) के नाम से नंबर सेव

खास बातें
UIDAI विवाद पर गूगल ने अपनी गलती मानी.
आधार के हेल्पलाइन नंबर में हेराफेरी का मामला.
गूगल ने कहा कि उसकी गलती की वजह से नंबर दिख रहा है.
नई दिल्ली: लोगों के मोबाइल फोन में अचानक भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) के नाम से एक टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर सेव हो गया, जिसके बाद से सोशल मीडिया पर हंगामा होने लगा और लोग यूआईडीएआई की आलोचना करने लगे, मगर मोबाइल फोन में यूआईडीएआई के नाम से नंबर सेव होने के मामले में गूगल ने अपनी जिम्मेवारी ले ली है. गूगल ने यह कबूल कर लिया है कि लोगों के मोबाइल फोन में दिखने वाले नंबर में उसकी गलती है. उसकी गलती की वजह से लोगों के फोन में यह नंबर दिखा. बता दें कि इससे पहले यूआईडीएआई के ऊपर सवाल उठ रहे थे, मगर बाद में उसने कहा कि उसने किसी फोन निर्माता या दूरसंचार सेवा प्रदाता को मोबाइल फोन में अपना टोल-फ्री हेल्पलाइन नंबर पहले से डालने के लिए नहीं कहा है. प्राधिकरण ने यह भी स्पष्ट किया कि एंड्रायड फोन में पाया जा रहा हेल्पलाइन नंबर 1800-300-1947 पुराना और अमान्य है. 

आधार के हेल्पलाइन नंबर में हेराफेरी, टोल फ्री नंबर 1800-300-1947 वैध नहीं : UIDAI

दरअसल, शुक्रवार को जब लोगों ने अपना एंड्रायड फोन चेक किया तो खुद ब खुद सेव हो रखे एक नंबर से उनके होश उड़ गये. मगर लोगों की आलोचनाओं के बीच UIDAI ने शुक्रवार को कहा कि एंड्राएड फोन के कॉन्‍टेक्‍ट लिस्‍ट में पहले से उपलब्‍ध नंबर 1800-300-1947 नंबर गलत है. UIDAI ने बयान जारी कर कहा है कि उसने किसी भी फोन ऑपरेटर या निर्मात�